वही किस्से, वही बेरुखी तुम्हारी, एक ही एहसास कितनी बार लिखूँ मैं ??

वही किस्से, वही बेरुखी तुम्हारी, एक ही एहसास कितनी बार लिखूँ मैं ??:
Directly Go To:
Share this Status Message
Share this Status Message

Leave a Reply