उसकी धाक एक दो पर नहीं, सैंकड़ो पर थी… और गिनती भी उसकी शहर के बड़ों बड़ों में थी…द्फ़न केवल छः फ़ीट के गडडे में कर दिया उसको…जबकि ज़मीन उसके नाम तो कई एकड़ों में थी॥

उसकी धाक एक दो पर नहीं, सैंकड़ो पर थी… और गिनती भी उसकी शहर के बड़ों बड़ों में थी…द्फ़न केवल छः फ़ीट के गडडे में कर दिया उसको…जबकि ज़मीन उसके नाम तो कई एकड़ों में थी॥:
Directly Go To:
Share this Status Message
Share this Status Message

उसकी धाक एक दो पर नहीं, सैंकड़ो पर थी… और गिनती भी उसकी शहर के बड़ों बड़ों में थी…द्फ़न केवल छः फ़ीट के गडडे में कर दिया उसको…जबकि ज़मीन उसके नाम तो कई एकड़ों में थी॥ – Best Attitude status in Hindi

Leave a Reply